Desi Bhabhi

गांव की सास की गांड मरवा लिया बदला

सभी दोस्तों को नमस्कार ! दोस्तो यह कहानी लगभग 6 महीने पुरानी है ! सबसे पहले मैं अपना परिचय दे देती हूं. मेरा नाम मीनाक्षी है और घर में मुझे प्यार से मीनू बुलाते हैं .मेरी शादी को 3 साल हो गए हैं. बचपन खेलते खेलते मैं न जाने कब बड़ी हो गई.

                     मैं शहर की रहने वाली हूं और मेरी शादी गांव में हुई है .मेरे घरवाले रिच फैमिली से हैं. मैं बहुत ज्यादा मोटी नहीं हूं .मेरा साइज 28-30 -34 का है .शादी से पहले मैं एक बार मेरे बॉयफ्रेंड से सेक्स कर चुकी हूं. इसके अलावा मेरा कभी सेक्स के लिए मन करता तो अंगुली से चुत ठंडी कर लेती थी.
             मेरे पति का नाम दीपक है और घरपे उसे दीपू के नाम से बुलाते हैं मेरे पति बहुत ही अच्छे थे.शादी की सुहागरात को उन्होंने मुझे नंगा करके खूब चोदा.उनका लंड बहुत बड़ा था और हम खूब मजे लेते थे.
हम दोनों सेक्स वीडियो देखकर और सेक्स स्टोरी पढ़कर मजा लेते थे .मुझे पहले तो सेक्स स्टोरी अच्छी नहीं लगती थी लेकिन बाद में धीरे धीरे इसमें मजा आने लग गया अब हम रोजाना सेक्स स्टोरी पढ़कर ही चुडाई करते थे कमी मेरे पति मेरे से दूर होते तो मैं उनको फोन पर सेक्स स्टोरी भेज देती थी. इस प्रकार मेरा जीवन सुख में निकल रहा था.
Desi Bhabhi
ससुराल में मैं सास और ससुर के साथ रहती थी मेरी सास का नाम सीमा था मेरे सास गांव से एक साधारण औरत थी वह कुर्ता और घागरा पहनती थी .उसके बूब्स साधारण और गांड भी ज्यादा नहीं निकली हुई थी शायद उसे सेक्स करने में मजा नहीं आता होगा.
             मेरी शादी के 2 साल तक मेरी सास का व्यवहार बहुत अच्छा रहा .लेकिन बाद में वह धीरे-धीरे मुझे अच्छी नहीं लगी. मुझे रोजाना ताने मारने लगी. मैं इसका बदला लेने की सोचने लगी 1 दिन इसकी किसी से गांड मरवाऊंगी.
                 संयोगवश उसी दिन मेरे बचपन के दोस्त राहुल का फोन आ गया .उसकी अभी तक शादी नहीं हुई थी तो उसने मेरे को एक बार और चुत देने को कहा  तो मैंने उसको टाइम का बहाना लेकर मना कर दिया परंतु तभी मैंने सोचा कि क्यों ना सीमा की चुत और गांड इसको दिलवा दूँ.
तब मैंने राहुल से कहा की मैं तुमको और किसी की  दिलवा सकती हूं तब राहुल खुश हो गया फिर मैंने उसको कहा कि चार-पांच दिन बाद में फोन करती हूं. तुम तैयार रहना जगह और टाइम है बता दूंगी.
             अब मैं सीमा रंडी को चुदाने का प्लान बनाने लगी. फिर एक-दो दिन बाद मैं मेरी मम्मी का फोन आया कि उनको कहीं टूर पर जाना है तो तुम यार 5 दिनों के लिए यहां आ जाओ.
 मैंने कहा ठीक है. इसी के साथ में सोचने लगी क्यों ना सीमा रंडी को मेरे साथ ले जाऊं ताकि वहां उसकी चूत राहुल से मरवा सकूँ. मैंने मेरे पति दीपक और सास को मना लिया. अगले दिन मेरे पति मुझे और मेरी सास को घर छोड़ आए.
              घर पर मेरे मम्मी पापा टूर के लिए निकल पड़े थे .अब घर में मेरी सास और मेरे अलावा और कोई नहीं था .फिर मैंने दीपक को फोन कर दिया कि आज रात 9:00 बजे आ जाना तुम्हारे लिए चुत इंतजार कर रही होगी तब दीपक ने कहा की एक मेरा दोस्त  साथ आएगा तब मैंने कहा कि ठीक है ले आना.
              अब मैं अंधेरा होने का इंतजार करने लगी मुझे पता था कि आज मैं मेरे सास से बदला लूंगी. वो सीधे तो चुत मरवाती नहीं इसीलिए उसको नींद की गोली लेनी जरूरी थी. मैंने 8:00 बजे खाना बनाकर खिला दिया और सिर्फ एक गिलास दूध में चार नींद की गोलियां डालकर सासू मां को दूध पिला दिया
.मेरे सासुमा दूध पीने के 10 मिनट बाद कहने लगी कि मुझे तो नींद भी आ रही है .तब मैंने सोचा साली रंडी तुझे बहुत दिन हो गए .आज तेरी गांड मरवा कर ही रहूंगी और 5 मिनट बाद में ही सो गई.
 तभी मैं राहुल को फोन कर दिया.  वो 5 मिनट बाद ही घर का दरवाजा खटखटाने लगा .मैंने जाकर के गेट खोल दिया मुझे देख कर वो खुश हो गया .उसके साथ उसका दोस्त भी था वह बोला आज मेरे लिए किस को तैयार किया है .
तब मैंने कहा तुम दोनों अंदर चलो आज एक अच्छा माल लाई हु. तुम दोनों स पूरी रात चोदना. उसके बाद वो मेरे सास वाले कमरे में चले गए और मेरे सास को देखकर बोले उसको चोदना है मैंने कहा हां इसको बहुत दिन हो गए नखरे करते हुए. आज इसकी चुत गांड फाड़ दो.वो बोले ठीक है.
         मेरी सासू मां यानी सीमा रंडी गहरी नींद में बेड पर सो रही थी. उसने कुरता और घागरा पहन रखा था. घर में हमारी चारों के अलावा और कोई नहीं था. तो मैंने कमरे का दरवाजा भी बंद नहीं किया लाइट है सारी जल रही थी और मैंने मोबाइल वीडियो बनाने के लिए चालू कर दिया और राहुल और उसके दोस्त कमल को कहा शुरू हो जाओ.
 .राहुल ने सबसे पहले सीमा रंडी के हॉट  चूमना शुरू कर दिया और कमल  कुर्ते के ऊपर से ही बूब्स दबाने शुरू कर दिए. मुझे यह देख कर अच्छा लगने लगा .राहुल जोर-जोर से होंठ चूम रहा था अब राहुल ने होठों को छोड़कर नीचे टांगो की तरफ आ गया और घागरे को धीरे धीरे ऊपर करने लगा. मेरी सासू मां की टांग गोरी गोरी थी राहुल ने घागरे को पूरा ऊपर करके रख दिया.
 और नीचे देखा तो मेरी सासू मां ने पेंटी नहीं पहन रखी थी. तब राहुल ने कहा यह साली तो पूरी रंडी है पेंटी भी नहीं रखती है .तब मैंने कहा की तुम्हारे आने से पहले ही मैंने साले कुटिया की पेंटी उतार दी थी ताकि तुमको पेंटी उतारने में ज्यादा टाइम ना लगे.
      अब राहुल ने भी धीरे-धीरे करके अपने सारे कपड़े उतार दिए और वह पूरा एकदम नंगा हो गया उसका लंड मेरे पति के लैंड से भी बहुत बड़ा था .कमल ने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए और अपना लंड सीमा के मुंह पर फिर आने लगा और फिर सीमा का मुंह खोल कर अंदर घुसे डरने लगा. इधर राहुल सीमा की चूत को चाटने लगा.
यह सब देख कर मुझे भी मज़ा आने लगा लेकिन मुझे इन सब का वीडियो बनाना था इसलिए मैं नंगी नहीं हुई और धीरे-धीरे राहुल चूत में भी उंगली करने लगा और फिर घागरे का नाला खोल कर उसको नीचे फेंक दिया .अब कमल ने सासू मां के कुर्ते को खोलकर उतार दिया और फिर ब्रा को भी खोल कर फेंक दिया.
नंगा बदन देखकर मेरे मुंह से आ आ आ की आवाज निकल गई साले कुटिया के बूब्स मेरे से तो काफी बड़े थे अब मेरी सासू मा यानी सीमा रंडी पूरी तरह नंगी हो गई थी
. मैंने उसकी नंगी की चार पांच फोटो खींच ली थी ताकि उसको बाद में कभी ब्लैकमेल कर सकूं और मैं उसको नौकरानी की तरह रख सकूं मैं जैसा कहूं वैसा मेरी सासू मां करें .मैं जिससे  चुदवने  को कहूं उससे वो चुदवाए.
        अब राहुल बेड पर मेरी सासू मां के ऊपर जाकर लेट गया और बूब्स के निप्पल चूसने लगा तथा साथ में जोर-जोर से बूब्स दबाने लगा कमल अपना लंड हाथ में पकड़ कर सीमा के होठों पर फिर आ रहा था राहुल ने कहा मीनू आज मैं तेरी सास को चोदने जा रहा हूं .तुम्हें कैसा लग रहा है. मैंने कहा इस साली रंडी को पूरी रात चोद चोद कर बेहोश कर दो.
इसने मुझे बहुत तंग किया है आज मैं इसका बदला लेकर रहूंगी इतना कहने के बाद राहुल ने गहरी नींद में सोई हुई सीमा की टांगे ऊपर उठा ली और अपना लंड सीमा की चूत में डालने लगा लंड थोड़ा सा ही अंदर गया था कि मेरी सास उ उ उ उ उ उ उ उ उ करने लगी शायद वह बहुत दिनों से जो दी हुई नहीं थी या हो सकता है साली रंडी नहीं जानबूझकर पापा जी यानी मेरे ससुर को दी नहीं होगी
        तब मैंने राहुल को कहा कि आराम से करो. कहीं यह रंडी उठना जाए .तब राहुल ने लंड  बाहर  निकालकर उसकी चूत में बीच वाली अंगुली डाल दी और आगे पीछे करने लगा जिससे ट गीली हो गई.
Hindi Sex Story
 फिर राहुल ने दोबारा लंड को मम्मी की चूत पर लगाकर एक जटका मा रा जिससे पूरा का पूरा लंड सीमा रंडी की चूत में चला गया और और मेरी सास नींद में उ‌ उ उ उ उ उ उ करने लगी .
शायद उसको दर्द हो रहा था. परंतु नींद की गोलियों की वजह से उठ नहीं पा रही थी मैंने सोचा कि यह रंडी कहीं जाग ना जाए अगर जाग जाती तो इसको रस्सी से बांधकर चुदवाती. यह सब देख कर मेरे को बड़ा मजा आया और अपना हाथ मैंने भी सलवार के अंदर डाल दिया और चुत खुजलाने लगी.
 तब राहुल ने कहा कि मीनू तुम अपनी चुत कमल को दे दो ना .तब मैंने कहा आज पूरी रात मेरी सास को ही चोदना होगा .मैं आपको कल नाइट में दूंगी उधर राहुल सास को झटके पर झटका दे रहा था और पूरा कमरा फच फच की आवाज से गूंज रहा था .
xxx hindi Story
शायद अब नहीं सीमा की चुत खुल चुकी थी .अब राहुल उठ कर बैठ गया था और सीमा रंडी को कमल ने पकड़ कर राहुल की गोंडी में बैठा दिया.
नींद की वजह से सीमा इधर-उधर गिर रही थी तो कमल में उसको पकड़े रखा और राहुल मैं बैठे-बैठे उसकी चूत लंड पर रख दी और राहुल झटके मारने लगा बड़ा मजा आ रहा था मेरे को यह सब देख कर.
 क्योंकि आज मेरी तमन्ना पूरी हो गई थी अब राहुल जोर जोर से झटके मार रहा था उसने कहा मीनू पानी कहां निकालना है तो मैंने कहा इस रंडी के मुंह पर गिरा दो.
 इतने में ही राहुल खड़ा होकर लंड हाथ में लेकर आगे पीछे करने लगा और मेरे को कहा आ जा. हेल्प कर दे.तो मैंने राहुल का लंड पकड़ कर जोर जोर से झटके मारने शुरू कर दिए चार-पांच झटको के बाद ही उसका पानी निकल गया जो कि मेरी रंडी सासू मां के मुंह पर जाकर गिरा.
अब् बारी कमल की थी वह मेरी सासु मां की जो कि अब एक रंडी बन चुकी थी उसकी गांड मारना चाहता था .
तो उसने राहुल की सहायता से रंडी मम्मी को घोड़ी बना लिया और राहुल ने मेरे को सरसों का तेल लाने को कहा. मैं दूसरे रूम से जाकर तेल ले आई और साथ में किचन से एक 10 इंच का बैंगन उठाकर भी ले आई.
Antarvasna Story
 तब कमल ने कहा मीनू इसका क्या करोगी तब मैंने कहा कमल भाई देखते जाओ इसने बहुत ज्यादा की थी. उस सब का बदला मैं इसकी सुक्की गांड में बैंगन डालकर लूंगी.
और घोड़ी बनी हुई सीमा की सुखी गांड में बैंगन डालने लगी लेकिन बैंगन आगे नहीं जा रहा था शायद मेरी सास ने कभी भी गांड नहीं मरवाई थी तो आज उसकी गांड की सील टूटने वाली थी वह भी मेरे हाथों से फिर मैंने दोनों हाथों से थोड़ा दबाव देकर बैंगन को गांड में डालना चाहा परंतु वह थोड़ा सा ही अंदर गया था और मेरी रंडी सासू मां दर्द की वजह से आवाज कर रही थी.
 तब मैंने कहा कर साली रंडी आवाज और कर .तुझे बहुत दिन हो गए साली कुत्तिया. मादरचोद. तेरी यही सजा है ऐसा कह कर मैंने उसकी गांड पर 2 चांटे ठोक दिया जिससे उसकी गोरी गांड लाल हो गई और उसके मुंह पर थूक दिया. साले गंदी रंडी.मैं उससे पूरा बदला लेना चाहती थी. इसीलिए अपनी सलवार और पेंटी को खोल कर उसके मुंह पेशाब कर दिया और अपनी सलवार पहन ली.
 क्योंकि मुझे गुस्सा आ गया था अब मैंने बैंगन को पकड़कर पूरा जोर लगा कर गांड में डालना था परंतु वह नहीं जा रहा था तो मैंने सरसों का तेल लेकर उसकी गांड मैं बहुत सारा तेल डाल दिया और बैंगन को टेल मी करके फिर गांड पर लगाया और अब धीरे-धीरे बैंगन पर दबाव बढ़ाने लगी जिससे बैंगन धीरे-धीरे आगे जाने लगा
अब तक बैंगन 3 इंच तक गांड में जा चुका था मुझे बड़ा मजा आ रहा था अब मैंने और ज्यादा जोर लगा कर बैंगन को गांड में डालने लगी इस प्रकार धीरे-धीरे पूरा बैंगन गांड में चला गया जैसे ही पूरा बैंगन कांड में गया मेरी सासू मां अबकी बार ज्यादा आवाज करने लगी तो हम तीनों डर गए.
Bhabhi Sex
कि कहीं रंडी जाग तो नहीं गई है. ऐसा करने पर हम तीनों डर के मारे एक साइड में हो गए और वह गोरी से बेड पर पड़ गई.वह शायद गोलियों की असर की वजह से उठ नहीं पा रही थी और वापिस गहरी नींद में सो गई.
हम वापिस सीमा रंडी के पास आ गए और उसको फिर सें घोड़ी बना लिया और इस प्रकार मेरी सास सीमा की गांड की सील उसकी बहू मीनाक्षी के द्वारा तोड़ी गई.
        अब मैंने कमल को कहा तुम सोच लो. तो कमल ने गांड से लंड निकाल दिया और अपना लंड गांड में डालने लगा. बैंगन की वजह से गांड बड़ी हो चुकी थी जिससे कमल का लंड आसानी से गांड में चला गया.अब कमल सीमा की गांड मैं लंड अंदर बाहर कर रहा था.
 फिर उसने बेड से नीचे उतर कर सीमा रंडी को गोद में उठाकर गांड में डाल दिया और झटके मारने लगा सीमा रंडी नींद में ही उछल रही थी अब शायद कमल काम ही निकलने वाला था तो उसने पूछा कहां गिराना है मीनू.
 मैंने कहा इसके फेस पर ही डालो. फिर उसने सीमा को बहुत से नीचे उतार कर फर्श पर बैठा दिया और राहुल ने उसको पकड़े रखा. कमल ने  लंड के चार पांच झटके मारे और  सारा माल सीमा रंडी के मुंह पर गिरा दिया और फिर सब ने एक साथ सीमा रंडी के पर पेशाब किया जिससे पेशाब का पानी उसके बालों से होता हुआ उसके मुंह पर और उसके बूब्स से होता हुआ उसकी चूत तक चला गया. इस प्रकार एक बहू के द्वारा सास के साथ बदला लिया गया.
फिर मैंने राहुल और कमल को कपड़े पहन कर जाने को कहा क्योंकि रात के 2:00 बज चुके थे और हमें सोना भी था. उन दोनों ने कपड़े पहने और चले गए फिर मैंने मेरी रंडी सास को बेड पर सुलाया और सबसे पहले कपड़े से उसका शरीर पूछा और उसको पेंटी पहनाई. फिर घाघरा और कुर्ता पहना कर बेड पर सुला दिया और मैं भी चुत में ऊँगली करके  लाइट बंद करके सो गई.
सुबह मुझे जल्दी जा आ गई क्योंकि मैं रात वाले बदले से बहुत खुश थी मेरी रंडी सासू मां सुबह 10:00 बजे उठी वह चल भी नहीं पा रही थी और धीरे धीरे चल कर बाथरूम में फिर मैंने चाय बना कर दी मैंने पूछा कैसी हो मम्मी जी तो उन्होंने कहा शरीर दुख रहा है तब मैंने कहा ऐसे ही दर्द हो रहा होगा.
 उस रंडी को यह नहीं पता था कि उसके साथ रात को क्या हुआ था. इसकी अगली रात को राहुल और कमल भाई ने मुझे खूब चोदा जो कि मैं आपको किसी अन्य कहानी में बताऊंगी.
 हां कमल मेरे रिश्ते में भाई लगता है !

Leave a Reply

Your email address will not be published.